ICSE Full Form in Hindi, ICSE Full Form, आई.सी.एस.ई की फुल फॉर्म इन हिंदी, दोस्तों क्या आपको पता है ICSE की full form क्या है, ICSE का क्या मतलब होता है, ICSE का Exam कैसे Clear करें, ICSE बोर्ड होता क्या है?, अगर आपका answer नहीं है तो आपको उदास होने की कोई जरुरत नहीं है क्योंकि आज हम इस post में आपको ICSE की पूरी जानकारी हिंदी भाषा में देने जा रहे है तो फ्रेंड्स ICSE Full Form in Hindi में और ICSE की पूरी history जानने के लिए इस post को लास्ट तक पढ़े।

ICSE की फुल फॉर्म “Indian Certificate of Secondary Education” होती है, हिंदी भाषा में इसे “माध्यमिक शिक्षा के भारतीय प्रमाण पत्र” कहा जाता है. ICSE माध्यमिक शिक्षा सम्बंधित एक प्राइवेट Institute है, इस Institute को English Medium में संचालित किया गया है, साथ ही इस Institute द्वारा आयोजित की जाने वाली सभी परीक्षाएं english medium में होती है। ICSE बोर्ड का headquarters नई दिल्ली में स्थित हैं।

ICSE बोर्ड की स्थापना 1956 में हुई थी, और इस board की स्थापना मुख्यतः भारत मे आंग्ल-भारतीय education के उद्देश्य से किया गया था, जैसा की आप जानते है इस Institute को हमारे भारत में नई education नीति 1986 के सिफारिशों के अनुसार, सामान्य education के syllabus में एक परीक्षा प्रदान करने के लिए डिजाइन किया गया है।

यह बोर्ड मुख्यत 2 प्रकार की परीक्षाओं को आयोजित करवाता है, जो कि निम्नलिखित हैं −

  • ICSE − Indian Certificate of Seconadary Education
  • ISC − Indian School Certificate

ICSE बोर्ड की कुछ प्रमुख विशेषताएं हैं

  • यह बोर्ड सभी विषयों जैसे भाषा, science, गणित, art इत्यादि पर ध्यान देता है।
  • यह बोर्ड सभी छात्रों के लिए different विषयों का चयन करने के लिए अधिक option प्रदान करता है !
  • ICSE बोर्ड छात्रों के व्यावहारिक ज्ञान व ऑल round development पर ज्ञान में वृद्धि पर केंद्रित है।
  • इस बोर्ड द्वारा भाषा विषयों के रूप में 20 से अधिक भारतीय भाषाओं और 12 विदेशी भाषाओं की सुविधा प्रदान करता है !

आईसीएसई बोर्ड ने परीक्षार्थियों के लिए नया फैसला लेते हुए घोषणा की है कि परीक्षार्थियों की अंक सूची में अब विषय के हिसाब से अंक शामिल किए जाएंगे। जैसे अंग्रेजी भाषा और साहित्य, इतिहास और नागरिक, भूगोल और विज्ञान के लिए अलग-अलग उल्लेख किए गए अंक होंगे। गत वर्ष तक, मार्क शीट में केवल विषय  का उल्लेख किया जाता था उसके आगे कितने भाग है का उल्लेख नहीं मिलता था।

PunjabKesari

इसकी जानकारी बुधवार को एक प्रैस विज्ञप्ति में भारतीय स्कूल सर्टीफिकेट परीक्षा परिषद (सीआईएससीई) के मुख्य कार्यकारी और सचिव गेरी अराथून ने दी और कहा कि यह नया बदलाव परीक्षा वर्ष 2019 से प्रभावी होगा। इसके अलावा आईसीएसई और आईएससी छात्र केवल एक विषय में कम्पार्टमेंट की परीक्षा के लिए उपस्थित होने में सक्षम होंगे। इसके लिए परीक्षा हर साल जुलाई माह में आयोजित की जाएगी और परिणाम अगस्त में घोषित किए जाएंगे।

PunjabKesari

उन्होंने बताया कि आईसीएसई और आईएससी परीक्षा 2019 के लिए समय सारिणी परिषद की वेबसाइट पर पहले ही अपलोड कर दी गई है। उन्होंने बताया कि परीक्षा वर्ष 2021 के बाद, आईसीएसई और आईएससी स्तर पर विषय साहित्य (अंग्रेजी पेपर 2) के लिए,सभी उम्मीदवारों को अनिवार्य रूप से निर्धारित शेक्सपियर के खेल, गद्य (लघु कथाएं) और कविता का अध्ययन करना होगा। इसके अलावा नए विषयों को भी शामिल किया जा रहा है।

PunjabKesari

यही नहीं आईसीएसई समूह 1 – इतिहास, नागरिक और भूगोल (थाईलैंड), यह विषय मुख्य रूप से थाई राष्ट्रीयता के उम्मीदवारों के लिए पेश किए जा सकते है। उम्मीदवारों के पास इतिहास, नागरिक और भूगोल या इतिहास, नागरिक और भूगोल (थाईलैंड) का अध्ययन करने का विकल्प होगा। आईएससी छात्रों के लिए, आतिथ्य प्रबंधन और कानूनी अध्ययन के विषयों को पेश किया जाएगा। इसके साथ-साथ अकादमिक वर्ष 2019 से आईसीएसई और आईएससी स्तरों पर विभिन्न प्रमुख विषयों पर शिक्षकों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम अनिवार्य होगा।

आइसीएसई बोर्ड के नतीजे घोषित हो चुके हैं. दसवीं में कार्मेल स्कूल धनबाद की अनुष्का को 99.4 प्रतिशत मार्क्स हासिल हुआ है. वहीं झारखंड में जमशेदपुर के छात्र – छात्राओं ने बेहतरीन प्रदर्शन किया और टॉप टेन में जगह बनाया है. केरला समाजम स्कूल के स्वरूप पाढ़ी व हिलटॉप स्कूल जमशेदपुर के प्रिया कुमारी ने 99 प्रतिशत अंक प्राप्त किया है. बारहवीं बोर्ड में लोयला स्कूल जमशेदपुर के छात्र अभिषेक अग्रवाल ने 99.25 प्रतिशत अंक हासिल कर ऑल इंडिया टॉप 10 में जगह बनाया.

रांची का कैसा रहा रिजल्ट 

रांची के संत जेवियर स्कूल डोरंडा के विद्यार्थियों ने भी अच्छा प्रदर्शन किया है. दसवीं में संत जेवियर स्कूल के छात्र  सोहम सेन – 97.60 %, रोशन प्रशांत बारा – 95.80 %, गुणजीत जलेन रिमोल्ड – 95.40 % को अंक प्राप्त हुए है. 

बिशप बेस्कॉट गर्ल्स में निवेदिता चटर्जी को 97.2 प्रतिशत अंक प्राप्त हुआ है. इशिका ठाकुर को 95.6 % अंक और स्निग्धा वात्सया को 95 % अंक प्राप्त कर स्कूल में क्रमश : दूसरे व तीसरे स्थान पर रही. रांची स्थित लोरेटो कॉन्वेंट स्कूल की टॉपर श्रिया मुखर्जी रही. वहीं सेकेंड टॉपर आस्था रिया गुप्ता व तीसरे स्थान पर पलक मोदी रहीं. 
बारहवी में बोकारो के सत्यम ( साइंस स्ट्रीम ) को 97.75 प्रतिशत अंक 

आइसीएसई (10 वीं बोर्ड) बोकारो टॉप टेन संत जेवियर्स की छात्रा वंशिका सिन्हा व अक्षता अनिल पहले व दूसरे स्थान पर रही. वहीं सत्यम ने साइंस स्ट्रीम में 97.75 प्रतिशत अंक हासिल किया. 

नाम             प्रतिशत     

वंशिका सिन्हा         98.02        

अक्षता अनिल         97.04        

तरूण वर्मा         96.02        

श्रेया राज         95.06        

वैष्णवी प्रसाद         95.00        

अनुराज गढवाल     94.08        

ऋषभ रंजय         94.04        

आइएससी (12 वीं बोर्ड – साइंस) बोकारो टॉप फाइव (संत जेवियर्स)

नाम             प्रतिशत

सत्यम             97.78

प्रज्ञा            94.00

अनन्या सिंह         93.75

प्रतीक खाखो         92.75

प्रत्युष             91.00

लोहरदगा के मो आबिद हुसैन ने लाया 92 प्रतिशत अंक 

लोहरदगा के छात्रों ने भी इस बार अच्छा प्रदर्शन किया है. लोहरदगा के मो आबिद हुसैन ने 92.4 प्रतिशत अंक हासिल किया. वहीं शाइस्ता फजल ने  92 प्रतिशत अंक प्राप्त जिले में सेकेंड टॉपर रही. 

ICSE Board Full Form

The ICSE Board full form is Indian Certificate of Secondary Education. The Indian Certificate of Secondary Education has been formed to offer an examination in a curriculum of general schooling, in accord with the commendations of the 1986 Education Policy, by the medium of English. Private scholars are not allowed to appear for this exam. The mode of examination in ICSE is English. It is a private, non-governmental board of school education in India for Class 10th.

The ICSE syllabus is vast and lengthy and it gives emphasis on the detailed study of each subject with an edge over English. The ICSE syllabus is well-structured and compressive. It aims to impart analytical skills, problem-solving skills and practical knowledge to the students. ICSE is newer so it has fever scholarships and talent search examinations.

ICSE Council governs the ICSE Board which mainly aims at providing education for all and promotes within its sphere interests of science, literature as well as fine arts. It believes in bringing about a revolution in the impartment of useful knowledge for all.

Subjects in ICSE

The subjects offered by ICSE is divided into three parts. Part I, II and III. Given below are the subjects of Class 9 and 10 according to the groups. ICSE results are taken from best five of six subjects out of which English marks is compulsory.

Group 1 (Compulsory subjects)

English
Second Language
History/Civics & Geography
Science Application

Group 2 (Any 2/3 subjects)

Mathematics
Science (Physics, Chemistry, Biology)
Commercial Studies
Economics
Environmental Science
A Modern Foreign Language
A Classical Language

Group 3 (Any 1 subject)

Computer applications
Technical drawing
Drama
Art
Dance
Yoga
Hindustan Music
Carnatic Music
Instrumental music
Physical Education
Economic applications
Commercial Applications
Mass media and communication
Modern foreign language
Environmental Applications
Cookery
Performing Arts

Advantages of ICSE Board

  1. The syllabus covered by ICSE for all the subjects includes good amount of depth so that all the concepts are clear and properly understood by the students.
  2. It gives a lot of options to students when it comes to choosing which subjects a student wants to study.
  3. It emphasizes more on English fluency which results in ICSE students being more articulate in English than others.
  4. It also emphasizes on students becoming active problem-solvers with a good amount of practical skills rather than just being a good academics.
  5. All over the world, most high-education institutes accept ICSE as an official educational qualification.

Stay tuned with BYJU’S to get the latest news and notification on ICSE Exam along with syllabus, marking scheme, sample papers, previous year question papers and more.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here