आज हम आपको GNM Kya Hai के बारे में बताने जा रहे है अगर आप GNM Ki Taiyari Kaise Kare के बारे में जानना चाहते है तो आप बिलकुल सही पोस्ट पढ़ रहे इस पोस्ट में हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी देंगे हमे उम्मीद है की आपको हमारी पोस्ट ज़रूर पसंद आयेगी।

आज की पोस्ट में आपको GNM Course Ke Liye Qualification के बारे में भी जानने को मिलेगा जिसके बारे में हम आपको बिलकुल सरल भाषा में बतायेंगे आशा करते है की आपको हमारी पिछली सभी पोस्ट की तरह हमारी आज की पोस्ट GNM Kaise Bane भी जरूर पसंद आएगी जिसके बारे में आप पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे।

अगर आपका सपना नर्स बनने की है तो आप डॉक्टर लाइन का यह GNM Course भी कर सकते है इस Course को लड़का या लड़की भी कर सकती है। यह Course गाँव से लेकर शहर तक के छात्र भी करना पसंद करते है आप यह तो जानते है ही की नर्स के बिना डॉक्टर भी कुछ नही कर सकते है आप यह Course करके लोगों की Help कर सकते है नर्स का यह काम बहुत ही उत्तरदायित्व वाला होता है।

मेडिकल Field में नर्स बनने के लिए आप GNM का Course कर सकते है इस Course को करने के बाद आपको Registered Certificate मिलता है जिससे आप Registered नर्स बन सकते है यह Course करने के बाद आप Government हॉस्पिटल में नर्स के लिए निकलने वाली Vaccancy के लिए Apply करके सरकारी जॉब प्राप्त कर सकते है।

 

नमस्ते, मेरा नाम नीरज जीवनानी है, मैं हिंदी सहायता का संस्थापक हूँ। मैं उम्मीद करता हूँ आपको हमारा काम इस वेबसाइट पर पसंद आ रहा होगा। हम दिन रात मेहनत करके पूरी टीम के सहयोग से यह साइट को चलाते है और आप तक बेहतरीन, एक से बढ़कर एक आर्टिकल्स पहुंचाने का प्रयास करते है। हिंदी सहायता को एक नयी ऊंचाई पर ले जाने के लिए हमें आपका सहयोग चाहिए, हमने अभी हिंदी सहायता का एक मोबाइल एप्प लॉन्च किया है, इस एप्लीकेशन को आप यहां से डाउनलोड कर सकते है।यहाँ पर आप सभी महत्वपूर्ण जानकारियाँ सबसे पहले हासिल कर पाएंगे तो कृपया आप हमारा एप्प इनस्टॉल करके हमारा साथ ज़रूर दे ताकि हम आप तक हमेशा सभी महत्वपूर्ण आर्टिकल्स पहुँचाते रहे।

तो अगर आप भी जानना चाहते है की GNM Course Kaise Kare तो इसके लिए आपको हमारी इस पोस्ट को शुरू से लेकर अंत तक पढना होगा तभी आप GNM Ki Puri Jankari के बारे में जान पाएंगे हमे उम्मीद है की आपको हमारी इस पोस्ट में आपके सवालों के जवाब मिलेंगे।

GNM Kya Hai

GNM एक डिप्लोमा Course होता है जिसे लड़का या लड़की कोई भी कर सकता है यह 3 साल 6 महीने का Course होता है। पहले यह Course 3 साल का होता था लेकिन अब इसमें 6 महीने की Internship जोड़ दी गयी है। यह Course व्यक्तियों, परिवारों और समुदायों की देखभाल के प्रावधान पर केन्द्रित है। यह Course आप किसी भी मान्यता प्राप्त संस्था से 10th-12th करने के बाद कर सकते है जिसमें आपका कम से कम 40% स्कोर होना चाहिये।

GNM Course Kaise Kare

GNM Course करने के लिए आपको सबसे पहले 12th Class Pass करना होगी तभी आप GNM Course के लिए Apply कर सकते है। अधिकतर संस्थाओं में GNM की Admission Process Direct होती है GNM में विद्यार्थी को 10th+12th Board Examinations में लाये गये Marks के आधार पर सीटें बांटी जाती है। जबकि कुछ प्रतिष्ठित और Private Institutes Admission में Screening Test और Interview Process भी रखती है।

 

GNM Ke Liye Yogyta

GNM में Course करने के लिए आपके पास कुछ विशेष योग्यता होनी चाहिये तो चलिए जानते है की आपके पास क्या-क्या योग्यताएं होनी चाहिये।

 

आयु सीमा (Age Limit)

आवेदक की आयु न्यूनतम 17 और अधिकतम 35 वर्ष तक होनी चाहिये आवेदक 35 वर्ष से ज्यादा का नही होनी चाहिये।

 

शैक्षणिक योग्यता (Education Qualification)

इंडियन नर्सिंग काउंसिल की वेबसाइट के अनुसार छात्र PCB (Physics, Chemistry, Biology) से 12th पास होना चाहिये इसके अलावा यह भी उल्लेख किया गया है की 12th Art और Commerce स्ट्रीम से पास छात्र भी GNM का Course कर सकते है इसमें न्यूनतम आवश्यक Marks एक संस्था से दूसरी संस्था में भिन्न हो सकते है यह लगभग 40-50% तक हो सकता है।

 

GNM Ka Course

GNM Course 3 साल का होता है इसलिए इसमें हर साल अलग-अलग Subjects पढ़ायें जाते है तो चलिए जानते है GNM Courses और GNM Syllabus In Hindi के बारे में।

 

First Year Subjects:

  • Anatomy And Physiology
  • Microbiology
  • Fundamentals Of Nursing
  • First Aid
  • Community Health Nursing
  • Health Education
  • Nutrition
  • Personal And Environmental Hygiene
  • Psychology
  • Sociology

Second Year Subjects:

  • Medical Surgical Nursing
  • Pharmacology
  • Psychiatric Nursing

Third Year Subjects:

  • Pediatric Nursing
  • Advanced Community Health Nursing
  • Midwifery And Gynecology

इस Course में Theoretical Knowledge के साथ-साथ आपको Practical Knowledge का Experience होना बहुत जरूरी है इसके बाद इन Courses को पूरा करने के बाद छात्रों को 6 महीने की लंबी Internship करनी होती है जिसमें वार्ड मैनेजमेंट, Patient की देखभाल और क्लिनिकल नर्सिंग प्रैक्टिस आदि इस Internship Program के Part है।

 

GNM Ki Salary Kitni Hai

भारत में एक Fresher नर्स की Salary लगभग 2.5 से 3.5 लाख रुपये वार्षिक हो सकती है जबकि एक ज्यादा Experienced नर्स 7.5 लाख से 8.5 लाख रूपये वार्षिक कमा सकती है आप जितना Experience प्राप्त करेंगे उतनी ही अधिक Salary Earn कर सकते है। आपकी Salary कई कारको पर निर्भर करती है जैसे – क्षेत्र, शिक्षा, अनुभव, स्थान, कार्य, प्रोफाइल आदि।

 

GNM Nursing Ke Baad Kya Kare

जब आप किसी भी मान्यता प्राप्त इंस्टिट्यूट से यह Course कर लेते है तब आपको GNM का Registered Certificate मिल जाता है जिससे Medical Science में आपके रास्ते खुल जाते है इसके अलावा एक बार इस Course को कर लेने के बाद आप कई प्रकार की सरकारी और Private नौकरी करने के योग्य हो जायेंगे। आज हर Private और सरकारी हॉस्पिटल में GNM की आवश्यकता बनी रहती है।

 

GNM Course करने के बाद आप किसी भी Private या सरकारी हॉस्पिटल में जॉब के लिए Apply कर सकते है शुरुआत में आप अपनी योग्यता के आधार पर इस Field में 10 हजार से 20 हजार रुपये प्रतिमाह से अपने करियर शुरुआत कर सकते है जिससे बाद में धीरे-धीरे Experience बढने पर यह बढती जाती है।

 

नर्स का पद एक सम्मानजनक पद है, डॉक्टर और शिक्षक की तरह नर्सिंग एक ऐसा पेशा है, जिनकी सेवाओं को पैसे के किसी भी राशि के साथ उसका मूल्य नहीं लगाया जा सकता है , एक मरीज़ का इलाज डॉक्टर करता है, परन्तु  उस मरीज़ की देखभाल नर्स करती है, तथा उन्हें समय के अनुसार दवाएं देती है, वर्तमान समय में नर्सिंग एक बेहतर करियर का विकल्प है, यदि आप नर्सिंग क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है, तो आपको इससे सम्बंधित जानकारी इस पेज पर दे रहें है |

 

 

ऐसे बनें नर्स

नर्सिंग के क्षेत्र में डिग्री और डिप्लोमा, अंडर ग्रेजुएट एवं सर्टिफिकेट अनेक प्रकार के कोर्स होते हैं, छात्र अपनी योग्यता और रुचि के अनुसार कोर्स का चयन करते है, नर्सिंग से सम्बंधित कोर्स इस प्रकार है – 

  • बीएससी नर्सिंग (B.Sc नर्सिंग)
  • जीएनएम (General Nursing and Midwifery)
  • एएनएम ( Auxiliary Nurse Midwife/ health Worker )

 

1.बीएससी नर्सिंग

बीएससी नर्सिंग करनें के लिए अभ्यर्थी की शैक्षिणक योग्यता बारहवीं कक्षा भौतिकी रसायन व बायोलॉजी कम से कम 50% अंक से उत्तीर्ण होना चाहिए,  इस कोर्स की सरकारी कॉलेज की फीस लगभग 30000 रु० और प्राइवेट कॉलेज की फीस लगभग एक लाख होती है ।

नौकरी की संभावनाएं

इस नर्सिंग कोर्स को करनें के पश्चात आपको अस्पतालों में स्टाफ नर्स के पद पर नियुक्त किया जाता है, दो या तीन वर्ष का अनुभव प्राप्त करनें के पश्चात आप वार्ड सिस्टर का पद प्राप्त हो जाता है, नर्सिंग करनें  के बाद आप सरकारी और निजी अस्पतालों में नौकरी कर सकते हैं, इसके अतिरिक्त आप कम्युनिटी हेल्थ नर्सेस, स्पेशल क्लिनिक व केयर सेंटर, स्कूल हेल्थ नर्सेस, इंडस्ट्रीयल नर्स और आर्म्ड फोर्सेस, ड्रग कंपनी और काउंसलिंग सेंटर में भी नौकरी कर सकते हैं, साथ ही आप नर्सिंग कॉलेजों में टीचर भी बन सकते हैं । बीएससी नर्सिंग करनें के पश्चात अपनी रूचि के अनुसार,  सेना में नर्स बनने हेतु आवेदन कर सकते हैं ।

 

बीएससी नर्सिंग का पाठ्यक्रम

प्रथम वर्ष द्वितीय वर्ष तृतीय वर्ष चतुर्थ  वर्ष
एनाटॉमी नागरिक शास्त्र दाई का काम और प्रसूति नर्सिंग दाई का काम और प्रसूति नर्सिंग
फिजियोलॉजी औषध लाइब्रेरी कार्य सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग- II
पोषण पैथोलॉजी और जेनेटिक्स सह पाठ्यक्रम गतिविधियां नर्सिंग रिसर्च एंड स्टेटिस्टिक्स
जीव रसायन लाइब्रेरी कार्य मेडिकल सर्जिकल नर्सिंग नर्सिंग सर्विसेज और शिक्षा का प्रबंधन
हिंदी या क्षेत्रीय भाषा सह पाठ्यक्रम गतिविधियां बाल स्वास्थ्य नर्सिंग लाइब्रेरी कार्य
लाइब्रेरी कार्य मेडिकल सर्जिकल नर्सिंग मानसिक स्वास्थ्य नर्सिंग सह पाठ्यक्रम गतिविधियां
सह पाठ्यक्रम गतिविधि सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग ——- दाई का काम और प्रसूति नर्सिंग
नर्सिंग फाउंडेशन संचार और शैक्षिक प्रौद्योगिकी ——- ——-
मनोविज्ञान नागरिक शास्त्र ——- ——-
कीटाणु-विज्ञान औषध ——- ——-
कंप्यूटर का परिचय पैथोलॉजी और जेनेटिक्स ——- ——-

 

2.जीएनएम

जीएनएम का फुल फॉर्म जनरल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी होता है, इस कोर्स को छात्र और छात्राए दोनों कर सकते  है, इस पाठ्यक्रम के लिए अभ्यर्थी को पीसीबी से बारहवीं उत्तीर्ण होना चाहिए तथा अंग्रेजी में कम से कम 40 प्रतिशत अंक होना अनिवार्य होता है | इस पाठ्यक्रम की अवधि तीन वर्ष होती है, पाठ्यक्रम कम्पलीट होनें के बाद आपको रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट प्राप्त होता है | कोर्स करनें  के बाद आप सरकारी नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं, और प्राइवेट हॉस्पिटल या सरकारी संस्थान में संविदा पर नौकरी कर सकते है | इस कोर्स की सरकारी कॉलेज की फीस  लगभग 30000 रु० और प्राइवेट कॉलेज की फीस  लगभग एक लाख होती है ।

 

जीएनएम का पाठ्यक्रम

प्रथम वर्ष द्वितीय वर्ष तृतीय वर्ष
जैविक विज्ञान मेडिकल सर्जिकल नर्सिंग I मिडवाइफरी और गायनोकोलॉजी नर्सिंग
शरीर रचना विज्ञान और शरीर विज्ञान मेडिकल सर्जिकल नर्सिंग सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग- II
कीटाणु-विज्ञान औषध बाल चिकित्सा नर्सिंग
व्यावहारिक विज्ञान मेडिकल सर्जिकल नर्सिंग II इंटर्नशिप अवधि
मनोविज्ञान संचारी रोग नर्सिंग शैक्षिक तरीके और मीडिया
नागरिक सास्त्र आर्थोपेडिक नर्सिंग अनुसंधान के लिए परिचय
नर्सिंग की बुनियादी बातें कान, नाक और गला व्यावसायिक रुझान और समायोजन
प्राथमिक चिकित्सा कैंसर विज्ञान / त्वचा प्रशासन और वार्ड प्रबंधन
व्यक्तिगत स्वच्छता ऑप्थाल्मिक नर्सिंग स्वास्थ्य अर्थशास्त्र
सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग मानसिक स्वास्थ्य और मनोरोग नर्सिंग मिडवाइफरी और गायनोकोलॉजी नर्सिंग
पर्यावरण स्वच्छता मेडिकल सर्जिकल नर्सिंग I सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग- II

3.एएनएम

ए.एन.एम की फुल फॉर्म सहायक नर्स मिडवाइफ होता है, इस डिप्लोमा कोर्स में छात्र को इलाज के दौरान उपयोग होनें वाले उपकरणों  के रखरखाब और उनको उपयोग करने की जानकारी दी जाती है,  ए .एन.एम कोर्स को सिर्फ लड़किया ही आवेदन कर सकती है, इस पाठ्यक्रम की अवधि दो वर्ष होती है |

 

इस पाठ्यक्रम के लिए अभ्यर्थी को दसवीं उत्तीर्ण होना अनिवार्य है,तथा अभ्यर्थी की आयु 17 से 35 वर्ष की मध्य होना चाहिये |  इसमें आवेदक को संबंधित संस्थानों में प्रवेश परीक्षा के माध्यम से प्राप्त होता है | इस प्रशिक्षण को पूरा करने के बाद एक निजी या राज्य चलाये जानें वाले स्वास्थ्य देखभाल केंद्र या अस्पताल में स्वास्थ्य देखभाल के सहायक के रूप में सम्मिलित हो सकते हैं, इस पाठ्यक्रम की सरकारी कालेज में फीस लगभग  3-4 हजार और निजी कालेज में लगभग 10 हजार रुपये होती है ।

 

एएनएम का पाठ्यक्रम

सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग प्राथमिक चिकित्सा
पोषण प्राथमिक चिकित्सा देखभाल
पर्यावरण स्वच्छता संचारी रोग
स्वच्छता सामुदायिक स्वास्थ्य समस्याओ
संक्रमण और टीकाकरण बाल स्वास्थ्य देखभाल
दाई का काम, स्वास्थ्य केंद्र प्रबंधन मानसिक स्वास्थ्य

वेतनमान

इस क्षेत्र में शुरूआत में आपको 7 से 17 हज़ार रूपये तक मासिक वेतन मिलता है,  मिड-लेवल पदों पर नर्स को 18 से 37 हज़ार रूपये तथा अधिक अनुभवी नर्सों को 48 से 72 हज़ार रूपये मासिक वेतन के रूप में मिलते हैं |

 

नर्सिंग हेतु ऐसे करें तैयारी

नर्सिंग के क्षेत्र में अनेक प्रकार के कोर्स होते हैं, इसमें डिप्लोमा, अंडर ग्रेजुएट एवं सर्टिफिकेट आदि, इन सभी का पाठ्यक्रम, तथा कोर्स की अवधि अलग-अलग होती है, नर्सिंग में करियर बनानें हेतु कोर्स के अनुसार तैयारी करनी होगी, जैसे जीएनएम कोर्स की अवधि तीन वर्ष है,और तीनो वर्षो के पाठ्यक्रम अलग-अलग है, इसकी तैयारी इसके पाठ्यक्रम के अनुसार करनी चाहिये 

 

यहाँ आपको हमनें नर्स बननें के बारे में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here